अगर आपको भी आदत है बिस्तर पर बैठे खाने-पीने की तो हो जाइये सावधान


अक्सर आपने देखा होगा के आज कल बच्चों से लेकर बड़े-बड़ों तक को बिस्तर पर ही बैठे या लेटे खाने-पीने की आदत होती है। परन्तु आपको बता दें के ये आदत बिलकुल अच्छी नहीं है, ऐसा इसलिए क्यूंकि बिस्तर एक ऐसी जगह होती है, जहां लोग आराम करते हैं, वह खाना खाने की जगह नहीं है। इसी के कारण आपको स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। हमे खुद और बच्चों की इस आदत को हटाना चाहिए। आज हम आपको बताएंगे इसी से जुड़े नुकसान के बारे में। 
नींद की समस्‍या: कई लोग खाना खाते वक्त टीवी देखना पसंद करते हैं, ऐसे में वह बिस्तर पर ही खाना शुरू कर देते हैं। असल में ऐसी गतिविधियों से हमारे दिमाग पर बुरा असर पड़ता है, जिससे नींद संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। साथ ही मन में बेचैनी जैसी समस्या भी हो सकती है। 
हो सकते है कॉकरोच: दरअसल, बिस्तर पर खाना खाने की वजह से चादर पर खाने के टुकड़ों के गिरने की आशंका ज्यादा रहती है। ऐसे में बिस्तर पर चीटियां और कॉकरोच भी आ सकते हैं। साथ ही बिस्तर पर तरह-तरह के रोगाणु भी पैदा हो जाते हैं और वो आपको बीमार कर सकते हैं। इसलिए बेहतर है कि आप बिस्तर पर खाना खाने की अपनी आदत बिल्कुल छोड़ दें। 
पाचन संबंधी समस्‍या: बैठकर खाना खाने का भी एक तरीका होता है। अगर उस तरीके से बैठकर खाना न खाया जाए तो वह ठीक से पचता नहीं है। ऐसे में आपको पाचन संबंधी समस्याएं, जैसे कि गैस, पेट में दर्द आदि हो सकती हैं। इसलिए जितनी जल्दी हो सके आप बिस्तर पर बैठकर खाना खाने की आदत को बदल डालें।
रोजाना बदलें चादर : सबसे जरूरी बात कि अगर आप बिस्तर पर खाना खाते हैं तो नियमित तौर पर चादर को बदलें, क्योंकि अधिक दिन तक एक ही चादर बिछाए रखने से कई गंभीर बीमारियां हो सकती हैं और ये तो आप जानते ही होंगे कि गंदगी को बीमारियों की जड़ माना जाता है। इसलिए बिस्तर का इस्तेमाल सिर्फ सोने के लिए किया जाए तो अति उत्तम है।



Source link

Leave a Reply

%d bloggers like this: